योगी सरकार ने अखिलेश यादव को प्रयागराज जाने से रोका, तो भड़के सपा कार्यकर्ता

0
84

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के एक कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को जाने से रोक दिया, जिसके बाद से ही सपा कार्यकर्ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ खुलकर विरोध किया। फिरोजाबाद के सांसद अक्षय यादव ने इसे लेकर सपा कार्यकर्ताओं के साथ सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। वहीं इससे पहले अखिलेश यादव का प्रशासन के साथ जमकर वाद-विवाद हुआ। इसके बाद अखिलेश यादव ने कहा कि जो सरकार छात्रों-नौजवानों से घबराती है उसकी पराजय अवश्यंभावी है। भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है। किसान, नौजवान, व्यापारी, अल्पसंख्यक सभी परेशान हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के पास युवाओं की शानदार और जानदार ऊर्जा है। छात्र-युवा भाजपा की तानाशाही नीतियों एवं अलोकतांत्रिक आचरण का हर स्तर पर जवाब देंगे। हम लाठी खाएंगे पर पीछे भी नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा यह लड़ाई बड़ी है, संघर्ष-आन्दोलन में जोखिम उठाने में घबराना नहीं है। हमारी एकजुटता और संकल्पशक्ति ही हमें विजय दिलाएगी। 

अखिलेश यादव ने कहा कि उनको प्रयागराज में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के कार्यक्रम में जाने से रोकने में केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकारों की मिली भगत थी। वह कार्यवाही पूर्णतया अवैधानिक थी। उन्होंने कहा कि वे तो नौजवानों से मिलने जा रहे थे। जो सरकार उनसे घबराती है वह कितने दिन अपनी खैर मनाएगी।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की सरकारों ने कोई ऐसा काम तो किया नहीं कि कहीं कोई बदलाव दिखे। दूसरे देश जो हमारे साथ अथवा बाद में आजाद हुए वे प्रगति में काफी आगे निकल गए हैं। यहां युवा षक्ति के पास रोजगार नहीं है। भाजपा की सरकार जाएगी तो नौजवानों को रोजगार भी मिलेगा और किसानों के साथ न्याय होगा। व्यापारी और महिलाएं सुरक्षित होगी। समाज के हर वर्ग को सम्मान और आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। समाजवादी सरकार में एक्सप्रेस-वे बनी जिससे करोड़ों में राजस्व मिलेगा। उसके किनारे मंडियां बनाने की योजना से उससे किसान, व्यापारी और उपभोक्ता सभी को लाभ होता। भाजपा का एजेन्डा विकास रोकना, समाज में नफ़रत फैलाना है। जनता चुन-चुन कर एक-एक का हिसाब इस चुनाव में भाजपा से लेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here