देश में बाढ़ से हाहाकार, गृहमंत्री अमित शाह ने की उच्चस्तरीय बैठक

0
115

दिल्ली को छोड़कर देश के लगभग सभी हिस्से बाढ़ के विकराल रुप का सामना कर रहे हैं। जिसके मद्देनजर केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने गृहमंत्रालय में उच्चस्तरीय बैठक की। गृहमंत्री ने विभिन्न हिस्सों में मौजूदा बाढ़ की स्थिति और उससे निपटने के लिए केंद्रीय मंत्रालयों / एजेंसियों तथा संबंधित राज्यों की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक के दौरान इंडिया मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट ने बताया कि पिछले 3-4 दिनों के दौरान, असम और बिहार में अत्यधिक भारी बारिश हुई है तथा अगले 48 घंटों में इन दोनों राज्यों में भारी बारिश की संभावना है।

वहीं NDRF के महानिदेशक ने बताया कि बाढ़ प्रभावित राज्यों के संवेदनशील क्षेत्रों में बटालियन हेड क्वार्टर और रीजनल रिस्पांस सेंटर्स (RRC) में अलर्ट पर रखी गई टीमों के अलावा 73 NDRF की टीमें सभी आवश्यक उपकरणों के साथ पहले से तैनात हैं । उन्‍होंने यह जानकारी भी दी कि NDRF टीमों ने असम और बिहार में लगभग 750 लोगों को बचाया है।

केंद्रीय जल आयोग जानकारी दी कि असम में ब्रह्मपुत्र, बेकी, जीभरली, कटखल और बराक तथा बिहार में कमला, बगमती, महानंदा और गंडक नदियाँ गंभीर स्थिति में बह रही हैं। आईएमडी और सीडब्ल्यूसी दोनों नियमित अंतराल पर पूर्वानुमान बुलेटिन जारी कर रहे हैं। गृह मंत्रालय, एनडीआरएफ, भारत मौसम विज्ञानविभाग और केंद्रीय जल आयोगमें नियंत्रण कक्ष लगातार स्थिति पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं।

समीक्षा के बाद, केंद्रीय गृह मंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को देश में दक्षिण-पश्चिम मानसून से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए और बाढ़ प्रभावित राज्यों को सभी आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए हर संभव उपाय करने का निर्देश दिया।

बैठक के उपरांत गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे हाईएलर्ट पर रहेंऔर राज्‍यों को सहायता प्रदान करें। उन्‍होंने यह भी बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जान माल की सुरक्षा पर विशेष बल दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here