उत्तर प्रदेशः सहजवनां से दोहरीघाट रेलवे लाइन का रास्ता साफ, कैबिनेट ने दी मंजूरी

0
607

आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमिटी ने उत्तर प्रदेश के सहजनवा और दोहरीघाट रूट पर 81.7 किमी की नई रेल लाइन के निर्माण को मंजूरी दी। 1319.75 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इसके अलावा इलाहबाद से मुगलसराय तक तीसरी रेल लाइन के निर्माण को मंजूरी मिली, इस परियोजना पर 2649.44 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। साल 2023-24 तक दोनों परियोजनाएं पूरी हो जाएंगी।

वहीं कैबिनेट के फैसले के बाद रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सहजनवा दोहरीघाट के बीच में नई लाइन बनेगी, जिससे गोरखपुर को बाईपास करते हुए एक अतिरिक्त मार्ग बन जायेगा, जिससे अन्य मार्गों पर ओवरलोड कम होगा। उन्होंने कहा इन तीनो प्रोजेक्ट के निर्माण द्वारा लगभग 90 से 100 लाख मानव दिवस के बराबर काम मिलेगा, जिससे पूरे उत्तर पूर्व का इसका लाभ मिलेगा।

रेलमंत्री पीयूल गोयल ने कहा इलाहाबाद से पं.दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन की तीसरी लाइन बनाने का निर्णय हुआ है, इसमे आज के दिन लाइन कैपेसिटी 159% इस्तेमाल हो रही है, इस पर लगभग ₹2,650 करोड़ लागत से तीसरी लाइन बनाई जायेगी। उन्होंने कहा इस लाइन के बन जाने से लाइन कैपेसिटी का जो ओवरलोड है वो खत्म हो जायेगा, इस मार्ग का कंजेशन को कम करने के लिये यह बहुत आवश्यक है, चंदौली, मिर्जापुर व इलाहाबाद जिलों को इसका लाभ मिलेगा।

पीयूष गोयल ने कहा दिल्ली – हावड़ा के व्यस्त मार्ग, जहां 50 यात्री ट्रेन व 41 मालगाड़ियां चलती हैं, उन्हें समय सीमा पर चलाने में सुविधा होगी। उन्होंने कहा न्यू बोंगईगांव से अग्थोरी लाइन के दोहरीकरण किया जायेगा, ये 4 वर्षों में पूर्ण हो जायेगा। यह बक्सा, बरपेटा, बोंगईगांव, नलबारी और कामरूप को सेवायें प्रदान करेगा। पीयूष गोयल ने कहा इसके बन जाने से पूरी लाइन पर ओवरलोड समाप्त हो जायेगा, तथा इससे बोगीबिल सेतु का उपयोग करके पूरे पूर्वोत्तर को कनैक्ट करने के लिये यह दोहरीकरण का प्रोजेक्ट महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here