NIA संशोधन विधेयक राज्यसभा से भी पास, गृहमंत्री बोले – आतंकवाद की खैर नहीं

0
440

लोकसभा में पास होने के बाद NIA संशोधन विधेयक 2019 बुधवार को राज्यसभा में भी पास हो गया है। इससे पहले यह बिल सोमवार को लोकसभा में पास हुआ था। अब राष्ट्रपति के हस्तक्षार के बाद यह कानून की रुप में तब्दील हो जाएगा। इस दौरान राज्यसभा में बिल पर जवाब देते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि अब एनआईए पूरी तरह के आतंकवाद से लड़ने में सक्षम होगी।

राज्यसभा में अमित शाह ने कहा अगर ये सदन ही NIA की साख नहीं बनाएगा तो उसकी साख कैसे बनेगी। 2014 से 2019 तक कुल रजिस्टर केस 195 हैं। 195 में से 129 केस में चार्जसीट करने का काम समाप्त कर दिया है। 129 केस में से 44 केसों में जजमेंट आ गया है। 44 केसों में से 41 केसों में दोषियों को सजा हुई। उन्होंने कहा – मैं सदन को भरोसा देना चाहता हूं कि दुनिया में जहां पर भी भारतीयों के खिलाफ आतंकवाद का अपराध होगा तो वहां NIA की एजेंसी उसको डील करने में सक्षम होगी।

वहीं समझौता ब्लास्ट मामले को लेकर जवाब देते हुए कहा कि समझौता ब्लास्ट में 7 लोग पकड़े गए थे। हमारी एजेंसियों ने उन्हें पकड़ा था और अमेरिकी एजेंसियों ने भी कहा कि इन्होंने विस्फोट किया है। बाद में एक धर्म के साथ आतंकवाद को जोड़ने के लिए एक नया केस बनाया और जो अपराधी थे उन्हें छोड़कर नए लोगों के नाम उसमें जोड़ दिए गए। अमित शाह ने कहा नरेन्द्र मोदी सरकार इस कानून का कतई दुरूपयोग नहीं होने देगी, इसका मैं सदन को विश्वास दिलाता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here